Telegram Group Join Now

CTET में नॉर्मलाइजेशन होगी

Ctet : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) हर साल आयोजित कराई जाती है। लेकिन अब 2021 में नॉर्मलाइजेशन हो सकती है। ताकि सीटेट रिज़ल्ट में निष्पक्षता से फैसला लिया जा सके।

adobe post 20211219 14574306818952438884705821
CTET में नॉर्मलाइजेशन होगी

केंद्रीय स्तर पर होने वाली सरकारी शिक्षकों की भर्ती करने के लिए सीटेट की ऑनलाइन परीक्षा 16 दिसंबर 2021 से 13 जनवरी 2022 के बीच होनी थी। लेकिन सीबीएसई द्वारा सीटेट की परीक्षा तकनीकी कारणों से रद्द कर दी गई है। जिसके लिए बाद में डेट जारी की जाएगी। इसके साथ ही केंद्रीय बोर्ड द्वारा सीटीईटी के प्रोविजनल एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं जिनके मूल एडमिट कार्ड परीक्षा तिथि से दो दिन पहले जारी किए जाएंगे।

CTET में हो सकती है नॉर्मलाइजेशन

Ctet परीक्षा में क्वेश्चन पेपर लेवल अलग अलग हो सकता है। जिसके कारण नॉर्मलाइजेशन हो सकती हैं। सीटीईटी परीक्षा रिजल्ट के लिए निष्पक्षता के लिए यह फैसला लिया जा सकता है। यह परीक्षा 16 दिसंबर से 13 जनवरी के अलग अलग चरणों और पालियों में अलग-अलग लेवल के क्वैश्चन पेपर के साथ होगी।

अगर नॉर्मलाइजेशन होती है तो उसमे सभी विद्यार्थियों पर गहरा प्रभाव पड़ेगा। जिस सिफ्ट में क्वेश्चन पेपर आसान आएगा उस सिफ्ट के रिज़ल्ट में से नंबर काट लिए जाएंगे या फिर ऐसे समझ लो कि उस सिफ्ट में दूसरी सिफ्टो के अलावा अधिक कट ऑफ होगी। और दूसरी तरफ जिस सीटीईटी सिफ्ट में क्वेश्चन पेपर हाई लेवल/कठिन हुआ तो उसे कुछ नंबर दे दिए जाएंगे या फिर समझने के लिए मान लो की उस सिफ्ट में कट ऑफ कम रहेगी दूसरी सिफ्ट के मुकाबले में।

अन्य जानकारी के लिए डिंपल धीमान टेलीग्राम चैनल से जुड़े