Koo : कू दे रहा है पैसे कमाने का मौका सिर्फ 10 मिनट चलाना है ऐप

Indian App Koo : भारत में नया देसी सोशल ऐप लॉन्च हुआ है। जो भारत के डिजिटल फील्ड में आत्मनिर्भर भारत के सपने को एक ऊंची उड़ान प्रदान करता है। यह ऐप एक प्रकार से ट्विटर का विकल्व है। जिसका निर्माण भारतीय डेवलपर्स ने विदेशी ऐप्स की टक्कर में अपना देसी ऐप लॉन्च किया है। जो जल्द ही भारत में ट्विटर को मात देने में कामयाब हो जायेगा।

2022 जून में हमने देखा की कू अपने सभी यूजर को पैसे कमाने का मौका दे रहा है। जिसके लिए सिर्फ को का इस्तेमाल हर दिन 10 मिनट के लिए करना है। पहले दिन 1 रूपए और 7 वें दिन 7 रूपए मिलेंगे। ऐसे ही यह प्रोसेस चलेगा

भारत में ट्विटर को मात देने आया कू ऐप ( Koo App ) , इसके बारे में महत्वपूर्ण जानकारी यहां पर पढ़ें - डिंपल धीमान

कू (Koo) क्या है?

कू (Koo): यह एक इंडियन ऐप है जो भारत को 6 भाषाओं ( वर्तमान ) में भारतीयों को आपस में जोड़ता है. आपको बता दें कू ऐप ऐंड्रॉयड और आईओएस दोनों प्लेटफॉर्म पर उपलब्द हैं। कू एक अपडेट्स और ओपिनियन शेयरिंग माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है। जिसमे यूजर सभी दिलचस्प विषयों पर चर्चा कर सकते हैं। और जो एक प्रकार से देसी भारतीय ट्विटर है। जो ट्विटर से अधिक अट्रैक्टिव और अधिक फीचर अपने यूजर को प्रदान करता है।
10 फरवरी 2021 : कू अभी इन 6 भारतीय भाषाओं को सपोर्ट करता है। जिसमे हिंदी , इंगलिश , कनाडा , तमिल , तेलुगू , मराठी है
देसी ट्विटर कू में 400 क्रैक्टर्स में कू (Koo) कर सकते हैं । जिसमे ऑडियो और वीडियो भी शेयर कर सकते हैं। वो भी हैस्टैग के साथ,जिससे व्यूज लाइक्स ,और कमेंट्स मिल सकें। भारतीय कू ऐप में वेरिफिकेशन बैज पीले रंग का होता है।
कू मे भारत की अन्य सभी भाषाएं जल्द ही Koo App पर उपलब्द हो जाएगी।
जिसके नोटिफिकेशन पाने के लिए कू यूजर ऐप की सेटिंग्स में भाषा के ऑप्शन को सिलेक्ट कर अपनी मनपसंद की भाषा को सिलेक्ट कर अपना मोबाइल नंबर भर कर आने वाली भाषा के नोटिफिकेशन प्राप्त कर सकते हैं । आपको बता दें कू ऐप पर वर्तमान में पंजाबी , नेपाली , गुजराती आदि भाषाएं उपलब्द होंगी।

कू एप्लिकेशन संस्थापक

कू एप्लिकेशन के संस्थापक (Koo app founder) और सीईओ अप्रमेय राधाकृष्ण और प्रदीप भंडारी है। ये कर्नाटक के बैंगलोर में रहते है। और इन्होंने 2003-2006 में इंफोसिस से सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की थी।

कू एप्लिकेशन लॉन्च

Made In India Koo App : भारतीय कू एप्लिकेशन 14 नवंबर 2019 को Playstore पर लॉन्च की गई थी । आपको बता दें कू एप्लिकेशन के 10 लाख यूजर हो गए हैं। जिसका नया संस्करण हाल ही में 5 फरवरी 2021 को आया है। जिसमे कुछ नई भाषा और फीचर जोड़ें गए हैं। और भी नई भाषाओं को जोड़ने के लिए एलान किया है।

2019 में लॉन्च होने के बाद 2021 में ट्रेंड क्यों

मोदी जी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने के लिए यह ऐप आप ट्रेंड कर रहा है । ताकि यह ऐप ट्विटर को रिप्लेस कर सके । आपको बता दें ट्विटर द्वारा अब कई कारणों से सख्ती बरती जा रही है जो ट्विटर यूजर को परेशान करती है । यही नहीं बेहद से यूजर द्वारा रिपोर्ट की गई है कि हमने ट्विटर अकाउंट बनाया पर इस्तेमाल करने के लिए समय लगा , पर जब चलाया तो ट्विटर द्वारा उनका अकाउंट suspended कर दिया गया था बिना किसी कारण के ,जिसके चलते अब भारतीय कू एप्लिकेशन ट्रेंड कर रही है । इसके साथ ही आपको बता दें अब बेहद से सेलेब्रिटी , भारतीय नेताओं और बड़े मंत्रालय द्वारा कू पर अकाउंट बनाया गया है। जिसके कारण Koo App अब trending में हैं और 2021 की शुरआत में ही 1 मिलियन डाउनलोडर पार कर लिए हैं और 50k के लगभग रिव्यू प्राप्त कर लिए हैं

कू ऐप में है यूजर के दिल जितनी वाली बात

Koo App : कू ऐप यूजर को कू करने के सकेंत देते हैं और नए कू यूजर को स्वागत करते हैं । आपको बता दें कू ऐप के लिए कू सहायक अकाउंट भी हैं जो कू यूजर के द्वारा किए गए कू पर कमेंट कर उन्हें आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं ।कू संस्थापक : कू पर आने वाले सभी सत्कार योग्य यूजर का स्वागत और शुभकानाएं देते हैं

कू संस्थापक : कू पर आने वाले सभी सत्कार योग्य यूजर का स्वागत और शुभकानाएं देते हैं

कू के खास फीचर, ट्विटर को मात देने में सहायक।

सभी कू यूजर को अपना प्यार देना । जो किसी ही ऐप द्वारा ऐसा किया जाता है।
किसी अन्य कू यूजर से चैट करने के लिए पहले अनुमति लेनी होती है । जो वह कू यूजर बात करने के इच्छुक हैं , तभी अन्य कोई उनसे कू पर बात कर सकते हैं अन्यथा नहीं ।
कू पर दिलचस्प लोगो को फॉलो करने और ट्रेंडिंग कू को सजेस्ट करना सभी यूजर को अपनी और आकर्षित करता है।
कू ऐप अपन यूजर को आए नोटिफिकेशन बोल कर भी बताता है , जिसके लिए कू यूजर द्वारा सेटिंग में जाकर आवाज वाले ऑप्शन को सिलेक्ट कर Alow करना होगा

Leave A Comment For Any Doubt And Question :-

Comments are closed.