Ayushman Bharat Digital Mission : मोदी सरकार द्वारा 27 सितंबर ,सोमवार को आयुष्मान भारत डिजिटल योजना की शुरुआत की है। इस योजना का ऐलान पीएम द्वारा 15 अगस्त 2020 में लाल किले में लिया था। इस नई योजना की नई शुरुआत आज प्रधान मंत्री जन अरोग्य योजना के तीन साल पूरे होने पर की है। जिसे राष्ट्रीय स्तर पर शुरू कर दिया गया है, जो अभी 6 केंद्र शासित प्रदेशों में लागू हुई है। इस योजना के अंतर्गत भारतीय अपनी हेल्थ आईडी व हेल्थ कार्ड बना सकते हैं।

status me status IMG 20210927 WA0013
हेल्थ आईडी कार्ड अब आयुष्मान भारत अकाउंट है।

इस योजना का लाभ वे लोग घर बैठे ही उठा सकते हैं , जिनका मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक है। जिसके लिए उन्हें एनडीएचएम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद अपनी हेल्थ आईडी जेनरेट करनी होगी।

अपनी हेल्थ आईडी कैसे बनाए व डाउनलोड करें

सबसे पहले https://healthid.ndhm.gov.in/register इस लिंक पर जाएं।

इस लिंक पर जाने के बाद Via Aadhaar Card पर टैप करें।

इसके बाद नया पेज ओपन होगा जिसके बाद आपको अपना आधार नंबर डाल कर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी को दर्ज करना होगा।

उसके बाद फिर अपना मोबाइल नंबर भरे और फिर आए ओटीपी को भरें।

ऐसा करते ही आपकी आधार कार्ड की जानकारी आपके सामने दिखाई देगी।

जिसके बाद आपको अपने नाम से हेल्थ आईडी बना लेनी है। एक बॉक्स दिया होगा जहां पर @NDHM लिखा हुआ होगा, उसके आगे आप जो भी लिखेंगे वह आपकी हेल्थ आईडी बन जाएगी।

फिर आपको अपनी जीमेल भर कर सबमिट करके अपना हेल्थ कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। जिस पर आपकी हेल्थ आईडी के साथ नाम, जन्म तिथि और मोबाइल नंबर दिया गया होगा।

अगर आपके आधार कार्ड में मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड नही है तो आप अपने नजदीक सरल केंद्र से संपर्क कर सकते हैं।

🔰Frequently Asked Questions 🔰

हेल्थ आईडी कार्ड क्या है?

🔰हेल्थ आईडी कार्ड अब आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट (ABHA) है। जिसमे हेल्थ रिकॉर्ड डिजिटल होगा।

आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट कैसे बनाएं

healthid.ndhm.gov.in/register पोर्टल के माध्यम से

हेल्थ आईडी कार्ड या आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट का फायदा क्या है?

हेल्थ कार्ड बनवाने के बाद सभी हेल्थ रिकॉर्ड डिजिटल हो जाएंगे। जिसके बाद रोगी को पुरानी फाइल उठाने की जरूरत नही पड़ेगी। सभी पुराना डाटा कार्ड के माध्यम से पता लग जाएगा

Latest Posts